Credit Card – अब क्रेडिट कार्ड UPI पर लगेगा 2 प्रतिशत MDR, जानें क्या है यह MDR और कैसे कैलकुलेट किया जाता है

Credit Card : नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया यानी NPCI और बैंकों ने RuPay- यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस पर क्रेडिट कार्ड ट्रांजेक्शन पर लगने वाले चार्ज का ब्लूप्रिंट तैयार किया है।

Credit Card, UPI, Bank, Banking,

NPCI और Bank ने किया ब्लूप्रिंट तैयार –

NPCI (नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया) और बैंकों ने RuPay (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) पर Credit Card लेनदेन पर लगने वाले शुल्क का ब्लूप्रिंट तैयार किया है। पिछले हफ्ते दोनों पक्षों के बीच हुई बातचीत में इस तरह के लेनदेन पर 2% MDR लगाने पर सहमति बनी थी. आइए अब समझते हैं कि यह एमडीआर क्या है और यह कैसा लगता है।

MDR क्या है और कैसे काम करता है –

MDR का मतलब मर्चेंट डिस्काउंट रेट है। यह वह दर है जिस पर व्यापारियों जैसे दुकान या ई-कॉमर्स साइटों को Credit Card, Debit Card, Net Banking और Digital Wallet के माध्यम से भुगतान स्वीकार करने के लिए भुगतान करना पड़ता है। एमडीआर आमतौर पर लेनदेन राशि का 2 से 3 प्रतिशत होता है। उदाहरण के लिए, यदि कोई ग्राहक किसी व्यापारी को क्रेडिट कार्ड के माध्यम से 20,000 रुपये का भुगतान करता है और 2 प्रतिशत का एमडीआर लगा रहा है, तो इस भुगतान पर व्यापारी से 400 रुपये का शुल्क लिया जाएगा।

यह भी पढ़े – मोबाइल की जल्दी बैटरी खत्म हो जाती है, तो अपनाये ये ट्रिक्स ! नहीं होंगी जल्दी बैटरी खत्म !

Credit Card से भी कर सकेंगे UPI लेनदेन –

अभी अगर हम UPI पेमेंट करते है, तो पैसे सीधे बैंक से कटते है। लेकिन अभी हॉल ही में जो खबर आई है उसमे बताया है की अब कुछ ही महीने में Credit Card के जरिये भी UPI पेमेंट होने लगेंगे। लेकिन Credit Card से UPI पेमेंट लेने पर व्यापारियों को 2 से 3 % MDR (Marchant Discount Rate) लिया जाएगा।

MDR का पैसा इन को जाएगा –

Credit Card से UPI ट्रांजेक्शन पर व्यापारी से जो 2 % MDR लिया जाएगा। उसमें से 1.5 फीसद हिस्सा कार्ड जारी करने वाले बैंक को जाएगा और बाकी का हिस्सा Rupay और उस बैंक को जाएगा जिसके खाते में पैसे भेजे जा रहे हैं। यह योजना अभी मंजूरी के लिए आरबीआई के पास भेजी जाएगी और Rupay UPI क्रेडिट कार्ड ट्रांजेक्शन सितंबर में शुरू हो जाएंगे। इससे पहले रिजर्व बैंक ने पिछले महीने Rupay क्रेडिट कार्ड्स को UPI से लिंक करने की घोषणा की थी।

यह भी पढ़े – आपका भी डाटा जल्दी ख़तम हो जाता है, तो तुरंत ऑफ़ कर दे यह सेटिंग !

2000 रु तक लेनदेन पर कोई MDR लागू नहीं है –

फिलहाल 2,000 रुपये तक के डेबिट कार्ड से लेनदेन पर कोई एमडीआर नहीं लगता है। RuPay क्रेडिट कार्ड लेनदेन पर MDR फिक्स करना महत्वपूर्ण था क्योंकि यह क्रेडिट कार्ड व्यवसाय के लिए आवश्यक है। 20 लाख रुपये तक के सालाना टर्नओवर वाली इकाइयों को इस तरह के लेनदेन के लिए कोई शुल्क नहीं लगेगा। लेकिन उन पर एक बार में 2,000 रुपये से 5,000 रुपये तक का ही ट्रांजेक्शन हो सकता है. हालांकि दिन में कितनी बार लेनदेन किए जा सकते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close