Diwali Business Idea – दिवाली से पहले शुरू करे यह बिज़नेस ! 15 दिन में ही कमा लेंगे 1 से 2 लाख रूपये

Diwali Business Idea

Diwali Business Idea, Diwali, Business Idea, Low Budget Business Idea,

Diwali Business Idea – दिवाली (Diwali) पर घरों को रोशन करने के लिए रंग-बिरंगी लाइट्स की जबर्दस्त डिमांड रहती है. इसके अलावा शादी पार्टी में भी इसकी मांग रहती है. लोग बाजार जाकर या फिर ऑनलाइन इन्हें खरीदते हैं. ऐसे में डेकोरेटिव लाइट्स (Decorative Lights) का बिजनेस अपने लिए मुनाफे का सौदा साबित हो सकता है.

शुरू करे Decorative Lights का बिजनेस –

देश में फेस्टिव सीजन (Festive Season) चल रहा है और कुछ दिनों में दिवाली (Diwali) आने वाली है. ऐसे में हर कोई अपने घर को रोशनी के जगमग करने के लिए बाजार से रंग-बिरंगी लाइट्स (Lights) समेत अन्य सामान खरीद रहा है. रोशनी का ये त्योहार आपके लिए कम लागत में मोटा मुनाफा देने वाला खुद का बिजनेस (Business) शुरू करने का शानदार मौका साबित हो सकता है. दरअसल, एलईडी लाइट्स, लड़ी समेत अन्य डेकोरेटिव लाइट्स (Decorative Lights) का बिजनेस शुरू कर सकते हैं, जो कुछ दिनों में ही मोटी कमाई करा सकता है.

यह भी पढ़े – दिवाली पर शुरू करें ये जबरदस्त बिजनेस ! होने वाली है बहुत ज्यादा डिमांड

दिवाली में बहुत बढ़ जाती है Decorative Lights की मांग –

Diwali के मौके पर इस तरह की डेकोरेटिव लाइट्स की जबर्दस्त डिमांड (Lights Demand) रहती है. यही कारण है कि चीन भी इस मौके का इंतजार करता है. सजावटी चाइनीज लाइट्स (Decorative Chinese Lights) ने मार्केट में दबदबा बना रखा है. आप इस बिजनेस को शुरू करके सीधे चीन (China) को टक्कर देते हुए लाखों में कमाई कर सकते हैं.

सबसे खास बात ये है कि सजावटी लाइट्स का यह बिजनेस ना केवल दिवाली के मौके पर बल्कि आगे भी बढ़ता रहेगा. क्योंकि शादी समारोह हो या फिर कोई अन्य किसी तरह की पार्टी आमतौर पर लाइट्स की मांग बनी ही रहती है.

सिर्फ 10 हजार से शुरू कर सकते हैं बिजनेस

इस बिजनेस के लिए बहुत बड़ा अमाउंट निवेश (Investment) करने की जरूरत नहीं होती, आप अपने हिसाब से इस काम को महज 10,000 रुपये से भी शुरू कर सकते हैं. हालांकि, मार्केट और डिमांड को देखकर इसमें जितना बड़ा निवेश उतना मुनाफा वाला फॉर्मूला भी अप्लाई होता है.

इसे शुरू करने के लिए आपके पास दो तरह के विकल्प हैं. एक तो आप अपने निवेश से थोक बाजारों से कम दाम में लाइट्स खरीदकर 25 से 30 फीसदी फायदे के साथ बेच सकते हैं. या फिर निवेश की रकम से कच्चा माल लाकर लाइट्स को घर पर तैयार कर बाजार में सप्लाई कर सकते हैं

यह भी पढ़े –  ₹2000 तक में बिकता है ₹20 में बना प्रोडक्ट ! आज ही शुरू करे बिना किसी मशीने के यह बिज़नेस

लागत से कई गुना ज्यादा कमा सकते है पैसे –

डेकोरेटिव लाइट्स के बढ़ते कारोबार के चलते सजावटी लाइट्स और लड़ी तैयार करने के लिए छोटे बल्ब, तार, प्लक समेत अन्य आइटम कच्चे माल के तौर पर आसानी से उपलब्ध हैं. कच्चा माल (Raw Material) लाकर आप अपने घर के ही एक हिस्से में इन्हें तैयार कर सकते हैं. इन लाइट्स और लड़ियों को तैयार करने के तमाम तरीके इंटरनेट पर मौजूद हैं, जिनकी मदद ली जा सकती है. दोनों ही तरीकों से इस बिजनेस को शुरू कर 25 से 50 फीसदी तक मुनाफा कमाया जा सकता है. इसके अलावा अपनी तैयार की गई डेकोरेटिव लाइट्स को आप अपना ब्रांड नेम देते हुए दुकानों या फिर ऑनलाइन सेल (Online Sale) कर सकते हैं.

छोटी सी दुकान से कर सकते है यह बिज़नेस

त्योहारी डिमांड के लिहाज से देखें तो दिवाली पर अच्छी सप्लाई कर आप शुरुआती माल खपा सकते हैं और इससे होने वाले फायदे के साथ आप बिजनेस बढ़ाते हुए कुछ दिनों में लाखों की कमाई कर सकते हैं. कोरोना काल में ऑनलाइन शॉपिंग में जोरदार इजाफा देखने को मिला है. ऐसे में लाइट्स के इस बिजनेस को ऑनलाइन बेचकर जहां कमाई कर सकते हैं, वहीं अपने ब्रांड का प्रमोशन भी कर सकते हैं.

बड़ी बात ये है कि इन लड़ी, एलईडी और अन्य डेकोरेटिव लाइट्स बेचने के लिए आपको किसी लाइसेंस के लिए दफ्तरों के चक्कर लगाने की जरूरत भी नहीं है. अपनी सजावटी लाइट्स को बेचने के लिए आप अपने घर या मार्केट में छोटी सी दुकान खोलकर भी सप्लाई कर सकते हैं.

बचे सामान को बाद में भी बेच सकते है –

दूसरे शब्दों में कहें तो इस तरह की लाइट्स का बिजनेस आपके लिए घाटे का सौदा साबित नहीं होगा, क्योंकि इस बिजनेस का एक पहलू ये भी है कि जो माल आप दिवाली के मद्देनजर तैयार करेंगे अगर वो पूरा माल नहीं बिक पाता है, तो फिर बचा हुआ माल बेकार नहीं जाएगा. बल्कि, इसे आप शादी-पार्टी में सजावट के लिए भी सेल कर सकते हैं. मतलब रोशनी के त्योहार पर रंग-बिरंगी लाइट्स का बिजनेस कम लागत में मोटा मुनाफा देने वाला बिजनेस साबित होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close